राजेश खन्ना और अमिताभ के बीच इस वजह से आई थी दूरी, दोबारा काम नहीं करने की खाई थी कसम

नमक हराम अमिताभ और राजेश खन्ना की साथ में दूसरी फिल्म थी। साथ ही यह फिल्म आखिरी फिल्म थी जिसमें दोनों साथ में नजर आए थे। इससे पहले यह दोनों सुपरस्टार्स आनंद जैसी सुपरहिट फिल्म में काम कर चुके थे। खबरों की माने तो ये वो समय था जब राजेश खन्ना की फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही थी। जिसकी वजह से बॉलीवुड में राजेश खन्ना का स्टारडम फीका पड़ने लगा था। जबकि इसी समय बिग बी का सितारा उस समय बुलंदियों पर था। और बिग बी बॉलीवुड में सुपरस्टार बनकर उभर रहे थे।

यह था मामला

इस फिल्म से जुड़ा एक किस्सा ये भी है की इस फिल्म के अंत में बिग बी को मरना होता है। जबकि राजेश खन्ना को इस बात की खबर नहीं थी। हालांकि राजेश इस बात से बखूबी वाकिफ थे की दर्शकों का ध्यान उसी एक्टर पर ज्यादा होता है जो फिल्म के अंत में मरता है। बाद में फिम के क्लाइमेक्स सीन के बारे में काका को पता चला। तो उन्होंने बिग बी के इस सीन को बदलवाने के लिए निर्देशक के ऊपर दबाव बनाना शुरू कर दिया था। काका की मांग को निर्देशक ने भी मान लिया था।

राजेश खन्ना और निर्देशक से खफा हुए बिग बी

जब फिल्म में बिग बी ने अपने रोल को बदलते हुए देखा तो वे राजेश खन्ना और निर्देशक से नाराज हो गए। फिर बिग बी ने निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी से इस बारे में बात की। और फिल्म के निर्देशक ने बिग बी की बात मानकर फिल्म की स्क्रिप्ट में बदलाव कर दिया। बाद में फिल्म में मरने वाला रोल राजेश खन्ना को दिया गया। फिल्म की कहानी कुछ ऐसी हुई की फिल्म में काका को रमना था और बिग बी उनकी मौत का बदला लेना था।

दोबारा काम नहीं करने की खाई थी कसम

इसी कहानी के साथ नमक हराम को सिनेमाघरों में रिलीज किया गया। ।लेकिन फिर भी राजेश खन्ना से ज्यादा बिग बी के अभिनय को ज्यादा सराहना मिली यहीं वो वजह थी जब राजेश दर्शकों की प्रतिक्रिया देख बिग बी से खफा हो गए। और उन्होंने बिग बी के साथ दोबारा काम नहीं करने की कसम खा ली। बता दे इस फिल्म के डायरेक्टर ऋषिकेश मुखर्जी थे। जबकि इस फिल्म का संगीत आर डी बर्मन ने दिया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.